Speech on humanity in hindi. Speech on Humanity 2022-10-10

Speech on humanity in hindi Rating: 7,6/10 412 reviews

हैलो दोस्तों,

आज मैं आपके सामने मानवता पर एक भाषण देने जा रहा हूँ। मानवता एक ऐसा शब्द है जो हमारी समाज, संस्कृति, संस्थान और समृद्धि का आधार है। यह हमारी संवैधानिक, आध्यात्मिक, सामाजिक और आर्थिक जीवन का स्रोत है।

मानवता एक ऐसा शब्द है जो हमारे व्यक्तित्व को प्रकट करता है। यह हमारे स्वाभिमान, स्वतंत्रता, समृद्धि और सुख को प्रकट करता है। मानवता हमारे समाज में सदैव उपयुक्त होना चाहिए, क्योंकि यह हमारे समाज को एकजुट बनाता है।

मानवता हमारे समाज के सभी सदस्यों के बीच समानता, सम्मान और सहयोग को प्रोत्सा

Speech on Humanity In Urdu

speech on humanity in hindi

For humans to realize that this physical reality is a game and that we get to create whatever we want. Today, we are sharing Simple essay on Long essay on yoga for humanity in Hindi. In the new year, we all promise ourselves to make our lives better and commit ourselves to meet new ambitions, goals, hopes and challenges. You can also find more Essay Writing articles on events, persons, sports, technology and many more. How do we show humanity? How to give a speech for the new year? मानवता पर निबंध, Manavta Essay in Hindi. Happy New Year 2023 Wishing everyone a Happy New Year! भाषण — 2 सुप्रभात दोस्तों! The most common way to understand humanity is through this simple definition — the value of kindness and compassion towards other beings. We use your comments to further improve our service.

Next

Humanity Essay

speech on humanity in hindi

You can get your thoughts across to friends and family through your speech. But as we are progressing as a human race into the future, the very meaning of humanity is slowly being corrupted. Every religion in this world tells us about humanity, peace and love. For a new dimension of success, peace of mind and relaxation, leave behind all the bad habits that are holding you back from your success. We should stop fighting about democracy in other countries and start asking if we really have a say in our own country.

Next

Speech on Humanity

speech on humanity in hindi

Answer: The definition of humanity is the entire human race or the characteristics that belong uniquely to human beings, such as kindness, mercy and sympathy. Best wishes to all of you as you start a fresh start in the new 2023, collecting good old memories in 2022. मानवाधिकारों का सिद्धांत हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है खासकर आज के समय में जब मनुष्यों का शोषण दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है। इस शोषण को आज के समय में पहले से अधिक महसूस किया जा रहा है। मानव के मूल अधिकारों को समझने के लिए शिक्षकों के लिए छात्रों को अपने बराबर का महत्व देना आवश्यक हो जाता है। निम्नलिखित मानवाधिकारों पर भाषण सभी शिक्षार्थियों के लिए एक अच्छा संदर्भ बिंदु हैं। मानव अधिकारों पर लंबे और छोटे भाषण Long and Short Speech on Human Rights in Hindi भाषण — 1 माननीय प्रधानाचार्य, उप- प्रधानाचार्य, मेरे सहयोगियों और प्रिय छात्रों — यहाँ उपस्थित आप सभी को मेरी ओर से सुप्रभात! Do not spend more than necessary in the new year. If you have a habit of spending more than you can, then improve this habit. I did not understand when this year flew by in the blink of an eye.

Next

मानवता पर निबंध

speech on humanity in hindi

Essay on humanity in hindi manavta essay in hindi-दोस्तों कैसे हैं आप सभी दोस्तों आज की हमारी पोस्ट Essay on manushyata in hindi दोस्तों मनुष्यता हर मनुष्य के लिए आवश्यक है हर मनुष्य को अपनी मनुष्यता दिखाना चाहिए और जीवन में एक अच्छा इंसान बनना चाहिए दोस्तों मनुष्यता एक इंसान के द्वारा दूसरे इंसान पर किए गए वह अच्छे कर्म होते हैं जिससे दूसरे इंसान को खुशी मिलती है मनुष्यता हर मनुष्य को अपनाना चाहिए दोस्तों हम सभी का जीवन सिर्फ दो वक्त का खाना खाने के लिए नहीं हुआ है मनुष्य का जन्म इसलिए हुआ है कि वह दुनिया में कुछ ऐसा कर जाए की हजारों सालों तक दुनिया उसे याद रखें. In fact, when Auschwitz was finally liberated at the end of the war, the residents of the nearby population was taken around the camp to view the extremes of human behavior that left them shocked along with the rest of the population. Essay on yoga for humanity in Hindi - yoga for humanity par nibandh Hindi mein परिचय:- जैसा की हम जानते है योग के कई स्वास्थ्य लाभ है। इसलिए लोगों के बीच इसका प्रचार प्रसार के लिए हर वर्ष 21 जून को पुरे विश्व में योग दिवस मनाया जाता है। इसे मानाने के लिए प्रत्येक देश द्वारा हर साल इसे एक विषय थीम से जोड़ा जाता है। पिछले साल यानि की 2021 में भारत में, योग दिवस का थीम "स्वास्थ्य के लिए योग Yoga for health " था। और इस वर्ष यानि की 2022 में योग दिवस का थीम "मानवता के लिए योग Yoga for Humanity " है। जिस तरह कोरोना महामारी में योग का अभ्यास महामारी को मात दिया, इससे यह साबित होता है की मानवता के लिए योग एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। हमें योग को अपने जीवन में अनिवार्यतापूर्ण प्रतिबद्ध करने की जरुरत है। मानवता के लिए योग क्यों जरुरी :- जिस तरह से हमारा वातावरण और हमारी जीवन शैली बदल रहा है उसमे हम अकसर बीमार पड़ते रहते है। और कभी - कभी पुरे दुनिया में ऐसी महामारी भी जन्म लेती है जो करोड़ों लोगों की जान ले लेती है। हम बीमारी या किसी महामारी की चपेट में तभी आते है जब हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है। केवल योग की सहायता से हम अपने अन्दर रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते है। जब हमारे शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता होगी तो चाहे कोई भी महामारी या छोटी-मोटी बीमारी आ जाय वह हमारा कुछ नहीं बिगाड़ सकती। हाल के कोरोना महामारी में देखा गया लोग इतनी अधीक संख्या में बीमार हो रहे थे की लोगों के इलाज के लिए अस्पताल कम पड़ गये थे। जिसके कारण मानवता को इस महामारी से काफी क्षति पहुची। इसलिए हमें आज से ही योग के लिए पर्तिबध बनाना होगा हर दिन योग का अभ्यास करना होगा ऐसा कर के वास्तव में हम मानवता को बचा सकते है। योग सफलता की कुंजी है:- योग हमारे जीवन में शांति और एकाग्रता लाता है जिससे हम किसी भी विषय या लक्ष्य पर केन्द्रित रह सकते है। अगर हम अपने लक्ष्य पर लगातार सालों तक फोकस रहे तो हम जल्द ही सफलता की बुलंदी को प्राप्त कर सकते है। योग से हमारा तन और मन दोनों स्वस्थ रहते है अगर हमारा तन और मन दोनों स्वस्थ हो तो हमें किसी भी काम को करने में आलास नहीं होता और हर काम समय पर हो जाता है। इसके ठीक विपरीत अस्वस्थ व्यक्ति किसी भी काम पर अपना ध्यान केन्द्रित नहीं कर पाता जिसके कारण वह अपने जीवन में असफल हो जाता है। वैसा व्यक्ति जल्दी ही बूढा होकर जल्दी मर जाता है। योग दिवस का विश्व पर प्रभाव :- योग दिवस न केवल भारत में बल्कि पुरे विश्व में 21 जून को मनाया जाता है। विश्व स्तर पर भारत को योग का देश माना जाता है। योग की सुरुआत भारत देश से ही हुई थी। योग की उपयोगिता को देखते हुए भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के सुझाव पर योग दिवस पुरे विश्व में मनाया जाने लगा। मोदी जी ने योग दिवस का प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र के महासभा में दिया था जिसके बाद यह प्रस्ताव पारित कर संयुक्त राष्ट्र द्वारा इसे विश्व स्तर पर मानाने की घोषणा की गई। योग को सभी देशों द्वारा अपनाया गया और अन्य देशों के नागरिक भी इसका लाभ ले पा रहे है। निषकर्ष :- योग किसी व्यक्ति विशेष के लिए नहीं बल्कि पुरे मानव जाती के लिए महत्वपूर्ण है। इसका नियमित अभ्यास लोगों को महामारियों और अन्य बिमारियों से लड़ने के लिए शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाता है। हमें इसका अभ्यास आज से ही शुरू करनी चाहिए और इसक प्रचार प्रसार भी लोगों में करना चाहिए अगर हमारे एक सुझाव से कोई योग सुरु कर अपने स्वास्थ को ठीक करता है तो यह हमारे लिए गर्व की बात होगी। Students in school, are often asked to write Long essay on yoga for humanity in Hindi. Chris believes this to be one of the more beautiful realities in life; he says we would not be human if we could not depend on other people. Humanity is an integral part of life which tells that to help other living beings, try to understand others and realize their problems with our perspective and try to help them. This is the simple and short essay on yoga for humanity which is very easy to understand it line by line.


Next

Speech on My Wish for Humanity

speech on humanity in hindi

Humanity is just not limited to humans. When we talk about humanity, there can be various perspectives to look at it. Of great importance is how you want to see yourself in the new year. But being human does not necessarily mean that an individual possesses humanity. . All over the world, the new year begins on January 1st and from that day on, people prepare their plans to move forward in life.

Next

Remarkable Acts Of Kindness : Speech on Humanity

speech on humanity in hindi

We do that we provide you updated news and news. आज हम मानवता पर निबंध Essay On Humanity In Hindi लिखेंगे। मानवता पर लिखा यह निबंध बच्चो kids और class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए लिखा गया है। मानवता पर लिखा हुआ यह निबंध Essay On Humanity In Hindi आप अपने स्कूल या फिर कॉलेज प्रोजेक्ट के लिए इस्तेमाल कर सकते है। आपको हमारे इस वेबसाइट पर और भी कही विषयो पर हिंदी में निबंध मिलेंगे , जिन्हे आप पढ़ सकते है। मानवता और इंसानियत पर निबंध Humanity Essay In Hindi प्रस्तावना मानवता यानी इंसानियत, मनुष्यता। मानवता यानी मनुष्य के मन में दया भाव का होना। यह दया भाव इंसान का इंसानो और दूसरे जीवो के लिए होता है। मानवता जैसी भावना रखने वाले मनुष्य दूसरो का हमेशा भला करते है। मनुष्य ही संसार में एक ऐसा प्राणी है जो सभी भावनाओ को समझ सकता है। मनुष्य को इंसानियत यानी मानवता जैसी भावनाओ को अपने दिलों में रखना चाहिए। आजकल मानवता इतनी शर्मसार हो गयी है कि लोग अपनों का नुकसान करने में पीछे नहीं हटते है। मानवता जैसे भाव रखने वाले लोग इस समाज को एक दूसरे के संग जोड़कर रखते है। ऐसे लोग बिना स्वार्थ के लोगो का भला करते है। ऐसे लोग समाज में प्रेम और भाईचारे का पाठ पढ़ाते है। मनुष्य को ईश्वर ने बोलने की शक्ति प्रदान की है। मनुष्य अपने मन के हर तरह के भावो को प्रकट कर सकता है। इसलिए मनुष्य को अपने आप में इंसानियत हमेशा जिन्दा रखनी चाहिए। ज़रूरतमंदो की मदद करनी चाहिए और अपनों को सहारा देना चाहिए। आजकल मनुष्यो में संवेदनहीनता और मानवीयता की कमी देखी गयी है। दुनिया में अनगिनत समस्याएं और परेशानियां है, इसलिए मनुष्य को परोपकारी होना ज़रूरी है। संसार को मानवता की आवश्यकता है। मानवता की आवश्यकता क्यों है? इस दिन की History क्या है? He remembers how hard his mother fought to keep him and his brothers safe during that time. The amount of divisiveness caused by human-made factors such as religion, race, nationalism, the socio-economic class is causing humanity to disintegrate slowly. Those who oppose it happy new year 2023 Make a new beginning, extend the hand of friendship to them. कई देशो में गरीब लोगो और बच्चो पर अत्याचार किये जाते है। गरीबो का शोषण नहीं करना चाहिए। गरीब और गरीबी रेखा से नीचे जीने वाले लोगो के प्रति दया भाव रखना चाहिए, क्योकि वह भी इंसान है। लोग आजकल अपने स्वार्थ और अशिक्षा के कारण गैर कानूनी कार्य कर रहे है। बाल शोषण, चोरी डैकती, खून खराबा इत्यादि अपराध हो रहे है। ऐसे में इस दुनिया को मानवता की ज़रूरत है। गरीब मज़दूरों को ज़रूरत से ज़्यादा काम करवाया जाता है, उन्हें पूरे पैसे भी नहीं मिलते है। उनकी हालत दयनीय हो गयी है। आजकल धन वान लोगो ने भी जैसे मानवता खो दी है। उद्योगों के मालिकों में गरीब मज़दूरों के प्रति रहम होना चाहिए, मगर ज़्यादातर मामलो में मानवता की कमी देखी गयी है। कई स्थानों पर मज़दूरों से पशुओं की तरह कार्य करवाया जाता है। समाज में आये दिन हत्या, लूटपाट जैसे अपराधो का सिलसिला बढ़ता चला जा रहा है। इससे पता चलता है कि मानवता समाप्त हो रही है। कई मनुष्यो ने जानवरो के प्रति बुरा बर्ताव करके भी इंसानियत खो देने का काम किया है। आयेदिन लोगो का अधिकार छीनकर लोग रिश्वतखोरी जैसे अपराधो में संलग्न हो रहे है। जिस प्रकार समाज में अपराधों की संख्या बढ़ रही है, उससे यह समझा जा सकता है कि दुनिया से मानवता खत्म होती जा रही है। महिलाओं के साथ अपराधो की गिनती रुकने का नाम नहीं लेती है। बलात्कार, हत्या, यौन शोषण, इत्यादि घिनौने अपराध हर मिनट हो रहे है। इंसानियत जैसे शर्मसार हो गयी है।दुनिया में मिटती हुयी मानवता चिंता का विषय बन गयी है। क्यों लोग अपना संयम खोकर गलत अपराध कर रहे है और मासूम लोगो को नुकसान पहुंचा रहे है। मानवता कैसे व्यक्त होती है? What is Humanity in Hindi? Long Essay on Humanity 500 Words in English Long Essay on Humanity is usually given to classes 7, 8, 9, and 10.

Next

मानवता पर निबंध

speech on humanity in hindi

As you mention, this is based on opinion. We hope you have got some learning about yoga for humanity. मांसाहार छोड़कर शाकाहारी बनकर आज हमारा समाज मांसाहार की तरफ बढ़ रहा है। अखबार, टीवी, सोशल मिडिया में मांसाहार प्रोडक्ट जैसे चिकन बर्गर जैसे विज्ञापनों की भरमार है, पर क्या आपने सोचा है कि मांसाहार करने से आप पशु पक्षियों के प्रति कैसा व्यव्हार करते है? Chris believes that people are never more beautiful than when they are ugly, because that is when we are showing what we really are. Humanity Essay: The definition of humanity would be as quality of being human; the precise nature of man, through which he is differentiated from other beings. You can use the help of our article to prepare a speech. Well, humanity is a real personality trait and this may differ from one person to another depending on their make-up, it Is nevertheless something that can easily be modified to suit our actions and decisions. Humanitarian crisis such as the ones in Yemen, Myanmar and Syria has cost the lives of million people.

Next

मानवता और इंसानियत पर निबंध (Humanity Essay In Hindi)

speech on humanity in hindi

मनुष्यता मनुष्य के लिए अति आवश्यक है,वह इंसान जो गरीब है दुखी है हमें उसके लिए वह करना चाहिए,प्यासे को पानी भूखे को खाना खिलाना ही मनुष्यता कहलाता है और इतना ही नहीं हमें किसी से भी नहीं डरना चाहिए और हमेशा दूसरों की मदद करने के लिए आगे बढ़ना चाहिए यही मनुष्यता कहलाता है,अब तक बहुत सारे ऐसे लोग हुए हैं जिन्होंने ऐसे कर्म किए हैं और मनुष्यता के ऐसे कई उदाहरण दिए हैं की हजारों सालों बाद भी आज उन्हें याद किया जाता है,महादानी कर्ण जिसने दान में अपना सुरक्षा कवच भी दान कर दिया था उसे मौत का डर नहीं था क्योंकि वह एक मनुष्य था,राजा बलि जिन्होंने अपना पूरा राज दान कर दिया था दोस्तों हम सभी को मनुष्य के कर्म करना चाहिए. Make exercise a part of your life, keep in touch with people who think positively, and stay away from those who think and speak negatively. भाषण — 3 प्रिय दोस्तों — मेरी ओर से आप सभी को नमस्कार! We live in a world that has invented the telephone, internet, social media so that people can communicate easier. The thoughts of such great humanitarian have reached the hearts of many people across this planet. New beginnings are being made on January 1 all over the world. Our goal to celebrate the New Year 2023 is to start the whole year with a new mindset and new enthusiasm. And we can attain by acts of humanity.

Next

विश्व मानवाधिकार दिवस पर भाषण Speech on World Human Rights Day in Hindi

speech on humanity in hindi

Why Humanity is important in Hindi? मानवता का अर्थ इंसानियत, दया, मनुष्य जाति का स्वभाव, मानव जाति, मानव स्वभाव, भलामानस का गुण, मनुष्यत्व होता है। जब हम पशु पक्षियों और दूसरे जीवो के प्रति दया का भाव दिखाते हैं तो उसे मानवता कहते हैं। ईश्वर ने मानव मनुष्य को सर्वश्रेष्ठ प्राणी बनाया है। मनुष्य 86 लाख योनियों में सर्वश्रेष्ठ जीव है। मनुष्य को ईश्वर ने बोलने की शक्ति दी है। मनुष्य बोलकर अपने मन के भावों को व्यक्त कर सकता है। हम अपने सुख-दुख, खुशी, गम, आश्चर्य सभी भावों को बोलकर प्रकट करते हैं। आज दुनिया को मानवता की जरूरत क्यों है? When it comes to the question of our humanity, the jury has been out for the count and with good reason; as a term, it is described as being human, refers to human beings collectively or the act of valuing human life and being benevolent. लोगों को क्षमा करके कई बार जब किसी व्यक्ति के साथ दूसरे लोग कुछ गलत काम कर देते हैं तो वह बदला लेने का प्रयास करता है। ऐसे में हमें लोगों को क्षमा कर देना चाहिए। मन में किसी भी तरह की शिकायत शिकवा नहीं रखनी चाहिए। दूसरों को माफ करने से हम और महान बन जाते हैं। माफ करने से मन में एक संतुष्टि का भाव भी पैदा होता है। 5. मनुष्य से लेकर जानवरों तक जानवर से लेकर पशु-पक्षियों तक हर जीव पर हमें परोपकार करना चाहिए,हमें मनुष्य के कर्तव्य निभाना चाहिए,पशु पक्षियों को पानी पिला उनकी हर तरह से हमें मदद करना चाहिए हम सभी को उन्हें गुलाम नहीं बनाना चाहिए बहुत से लोग पशु पक्षियों को पिंजरे में बंद रखते हैं हमको चाहिए कि उनको आजादी की सांस लेने दें क्योंकि हम मनुष्य हैं हमको दूसरों के बारे में सोचना चाहिए. We suggest to verify the information provided by visiting the official website, we only try to provide correct information to you, you will have to verify the correctness of the scheme by visiting the official website yourself. He also recounts the day when they escaped from the camp and how a complete stranger emptied her suitcase and gave all of her belongings to his mother after hearing her story. These are just a few names with which most of us are familiar with. As we all know, the New Year is celebrated every year from midnight on December 31st.

Next

मानवता पर निबंध Essay on humanity in hindi

speech on humanity in hindi

If you have a good environment around you, then you can easily do any work. मैं साक्षी 9वीं कक्षा सेक्शन-ए से आज आपकी मेजबान हूं। आज हम सभी इस साल के वार्षिक समारोह में इकट्ठे हुए हैं और प्रबंधन समिति ने छात्रों के लिए एक विशेष छूट देते हुए कक्षाओं का संचालन नहीं करने का निर्णय लिया है ताकि हमारे स्कूल की अखंडता को बनाए रखने के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास किए जा सके। आज मैं एकता नामक विषय पर बात करना चाहती हूं। एकता को उन लोगों में एक गुण के रूप में परिभाषित किया जाता है जहां वे सभी के संयुक्त हित के लिए समूह में काम करते हैं चाहे वे समूह बड़े हो या छोटे हो बजाए केवल अपने खुद के हित के लिए काम करने के। यह एकल और सामान्य लक्ष्य के लिए एकता, एकजुटता, सद्भाव की भावना है। ताकत व्यावहारिक रूप से बोले तो एकता पर जोर देती है और अगर हर बार लोग एक-दूसरे के साथ सद्भाव और एकजुटता में काम करे तो नतीज़े में सौ गुना बढ़ोतरी हो जाती है। किसान और उसके पुत्रों की प्रसिद्ध कहानी मेरे विचारों को बहुत स्पष्ट रूप से समझाएंगे। किसान ने अपने कट्टरपंथी पुत्रों को लकड़ी के एक बंडल को तोड़ने के लिए कहा और बेटे ऐसा करने में विफल हो गए। बाद में किसान ने उन्हें प्रत्येक छड़ी को अलग-अलग तोड़ने के लिए कहा और उन्होंने बिना कोई अतिरिक्त प्रयास किए बिना लकड़ी को तोड़ दिया। इसके बाद पिता उन्हें एक महत्वपूर्ण सबक सिखाने के लिए घर ले गया और उन्हें बताया कि अगर वे एकजुट होकर खड़े रहे तो कोई उनका कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा और अगर विभाजित हो गए तो वे बिखर जाएंगे। इस प्रकार यह स्पष्ट है कि मानव जीवन के प्रत्येक चरण में एकता बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है जबकि घृणा और ईर्ष्या एकता को कमज़ोर करती है जिसका नतीज़ा आख़िरकार बर्बादी और तबाही है। एकता सभी के लिए समान अधिकार भी प्रदान करती है। एक साथ खड़े रहना कार्यस्थल, निजी जीवन और विभिन्न संगठनों को शामिल करने के लिए कई जगहों पर लोगों के मनोबल को बढ़ाती है। यह संबंधों को मज़बूत करने और टीमवर्क पर जोर देने में मदद करती है जिससे प्रदर्शन में सुधार, काम की गुणवत्ता और स्वस्थ जीवन शैली सुधरती है। यह स्वस्थ मानव संबंधों में सुधार और सभी के लिए समान मानवाधिकारों की सुरक्षा करती है। भारत में विविधता में एकता विशेष रूप से पर्यटन का स्रोत प्रदान करती है। विभिन्न रिवाज, मूल उत्पत्ति, जीवन शैली, धर्मों और त्यौहारों के लोग दुनिया के दूसरे देशों के पर्यटकों और सैलानियों को आकर्षित करते हैं। विविधता में एकता राष्ट्रीय एकता की भावना को बढ़ावा देती है जिसमें लगभग सभी पहलुओं की विविधताएं हैं। यह एक देश की समृद्ध विरासत के मूल्य का सम्मान करती है और उसी की सांस्कृतिक विरासत को मजबूत और समृद्ध करती है। समाज राष्ट्र की बुनियादी इकाई है और जब एक संगठित समाज के संगठन में एकता रहेगी तो यह बिना किसी संदेह के राष्ट्र के विकास में योगदान करेगी जो कि अंतिम लक्ष्य है। विश्व स्तर पर कई समस्याएं बढ़ रही हैं और इन समस्याओं को विशिष्ट स्तरों पर संभालने और निपटाने के लिए एकजुट होने की जरूरत है। विभिन्न राष्ट्रों का इस स्थिति का सामना करने के लिए एकजुट होना जरूरी है। यह किसी भी प्राणी, जो इस ब्रह्मांड में मौजूद है, के लिए जीवित रहने की क्षमता है। एकता की शक्ति अपने आप में एक विशिष्ट गुण है और इसके बहुत फायदे हैं। उदाहरण के लिए हर इंसान अपना एक सुरक्षित अस्तित्व तभी बनाए रख सकता है जब तक वह एकजुट रहता है। दूसरी ओर अगर वे अकेले रहते हैं तो उन्हें आसानी से धोखा दिया जा सकता है और उन पर काबू पाया जा सकता है। इसलिए हम सभी को एकजुट होने के मूल नियम का पालन करना चाहिए ताकि कोई भी शक्ति हमें अलग नहीं कर सके और हम विकास के लिए प्रयास करते रहें। अब कृपया मुझे अपने भाषण खत्म करने की अनुमति दें और मैं भी हर किसी से अनुरोध करती हूं कि अगर उन्हें कोई सवाल पूछना हो तो पूछने में कोई संकोच न करें। धन्यवाद। भाषण — 3 आदरणीय प्रधानाचार्य, शिक्षकगण और मेरे प्यारे दोस्तों! Short Essay on Humanity 150 Words in English Short Essay on Humanity is usually given to classes 1, 2, 3, 4, 5, and 6. How to show Humanity in Hindi? These acts of kindness are the important gestures that keep us human and keep the world going. I wish for humans to realize how powerful we are. She saw the people she served for, as humans, a part of her fraternity. He believed that to have contact with the divine one has to worship humanity. Well, every year is a new beginning for you as you start over, forget all old grudges and move forward.

Next